बांकाभागलपुरराजनीति

मंत्री को करना पड़ा अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं के भारी विरोध का सामना

अपमान व दुर्व्यवहार का आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओं ने की राजस्व व भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल के खिलाफ जमकर नारेबाजी, दिया धरना

बांका लाइव न्यूज़ : आमतौर पर ऐसी स्थितियां असामान्य परिस्थितियों में ही पैदा होती हैं। शायद ऐसी ही असामान्य परिस्थितियां रही होंगी कल सुल्तानगंज (भागलपुर) के कृष्णगढ़ यात्री धर्मशाला में, जब बीजेपी के बांका लोकसभा क्षेत्र स्तरीय कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल होने बांका के भाजपा विधायक एवं राज्य सरकार में राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री रामनारायण मंडल पहुंचे।
मौके पर मंत्री रामनारायण मंडल पहुंचे ही थे कि देखते ही देखते सुल्तानगंज दक्षिणी मंडल भाजपा अध्यक्ष हर्षनाथ मिश्रा की अगुवाई में दर्जनों कार्यकर्ता उनके खिलाफ नारेबाजी करने लगे। हंगामे की स्थिति पैदा हो गई। बाद में श्री मिश्रा एवं कार्यकर्ता कार्यक्रम स्थल के सामने गेट पर ही धरना पर बैठ गए और मंत्री के विरोध में जमकर नारेबाजी करने लगे।
पार्टी कार्यकर्ताओं ने मंत्री रामनारायण मंडल के खिलाफ मुर्दाबाद और वापस जाओ के नारे लगाए। इस दौरान कार्यक्रम में शामिल होने आए वरीय नेताओं एवं पार्टी संगठन के लिए ही बेहद असहज स्थिति पैदा हो गई। लेकिन कार्यकर्ता मानने को तैयार नहीं थे। ज्ञात हो कि इस मौके पर कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करने बांका की पूर्व सांसद एवं प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष पुतुल सिंह तथा प्रदेश संगठन मंत्री राधा मोहन शर्मा भी मौजूद थे।
हंगामे को देखते हुए प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष पुतुल सिंह एवं उनके साथ पहुंचे कार्यकर्ताओं ने मामले की जानकारी ली और कार्यकर्ताओं को शांत कराने की कोशिश की। पूर्व सांसद पुतुल सिंह के समझाने बुझाने पर किसी तरह कार्यकर्ता शांत हुए जरूर, लेकिन उन्होंने आरोप लगाया कि मंत्री रामनारायण मंडल हमेशा अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं का अपमान करते हैं जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।
वे पार्टी के सिपाही हैं और उन्हीं की बदौलत सेनापति की जीत होती है। सुल्तानगंज दक्षिण मंडल भाजपा अध्यक्ष हर्षनाथ मिश्र ने कहा कि पूर्व में सुल्तानगंज के अंचल अधिकारी शशिकांत कुमार की शिकायत को लेकर उन्होंने मंत्री से की गई कार्रवाई के बारे में जानना चाहा था। इसी पर मंत्री भड़क गए और उन्होंने उन्हें जमकर फटकार लगा दी तथा अपमानित किया।
दरअसल श्री मिश्र के साथ पूर्व के अंचल पदाधिकारी ने दुर्व्यवहार किया था, जिसकी शिकायत की गई थी। इस बारे में क्या कार्रवाई हुई यह जानकारी उन्होंने मंत्री से मांगी। इसी दौरान मंडल अध्यक्ष के साथ मौजूद कार्यकर्ता एवं मंत्री रामायण मंडल के साथ पहुंचे लोग आमने-सामने हो गए और आपस में धक्का-मुक्की शुरू हो गई।
मंडल अध्यक्ष हर्षनाथ मिश्रा ने यह भी आरोप लगाया कि मंत्री के साथ आए लोगों ने उनके साथ मारपीट भी की। इधर मंत्री रामनारायण मंडल का कहना है कि सरकार कोई परचून की दुकान नहीं है। अगर किसी को कोई परेशानी है तो नियमानुसार आवेदन दें जिसकी जांच कराई जाएगी। तत्पश्चात ही कार्रवाई की जा सकती है।
Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close